नीता अम्बानी की ज़िंदगी की कुछ अनजानी बातें/ Unknown facts about Neeta Ambani

जब भी देश के business women की बात की जाती है, तो Reliance Industries Limited की मालकिन और मुकेश अम्बानी की पत्नी नीता अम्बानी का नाम पहले नंबर पर आता है। IPL team Mumbai Indians, Reliance Foundation और Dheerubhai Ambani International School की संचालिका हैं। हम  नीता अम्बानी की ज़िंदगी की कुछ अनजानी बातें जानेंगे। 

ये देश की सबसे धनाढ्य महिला हैं। वहीँ संपत्ति के मामले में दुनिया भर में इनका स्थान 17 वां है। Famous Mummies की category में  हम नीता अम्बानी की ज़िंदगी की कुछ अनजानी बातें, share करेंगे, जो जितनी दिलचस्प हैं उतनी ही प्रेणादायक भी।  

images (76)

नीता जी एक multi-dimensional professional हैं। ये एक trained भरतनाट्यम dancer हैं। बचपन से इन्होने dance सीखा और stage performances भी दिए हैं। 

ये academics में अच्छी रही है इसलिए इनका स्वाभाविक रुझान teaching की तरफ रहा है। इन्होने लम्बे समय तक स्कूल में पढ़ाया हैं और आज देश के सुप्रसिद्ध धीरूभाई अम्बानी इंटरनेशनल स्कूल, मुंबई समेत कई स्कूलों का संचालन करती हैं।शाहरुख़ खान, ऐश्वर्या राय, आमिर खान जैसे  superstars के बच्चे इनके स्कूल में ही पढ़ते हैं।    

IPL Team- Mumbai Indians के जरिये ये क्रिकेट से जुडी हुई हैं। इनके नेतृत्व में टीम तीन बार winner रह चुकी है।  

ये Reliance Foundation नाम के Charitable Trust की संस्थापक हैं। यह संस्था समाज कल्याण के कामों में समर्पित है।  यह देश का सबसे बड़ा private चैरिटेबल ट्रस्ट है। 

पहले माँ, Business Woman बाद में 

तीन बच्चों की माँ नीता जी अपनी सभी जिम्मेदारियों के बीच बच्चों की जिम्मेदारी को सबसे ऊपर रखती है।  

1991 में इनके जुड़वां बच्चे हुए बेटा आकाश और बेटी ईशा अम्बानी। 1995 में इन्होंने दूसरे बेटे अनंत अम्बानी को जन्म दिया। आज तीनों ही बच्चे अपनी पढ़ाई पूरी करके अपने family बिज़नेस में शामिल हो चुके हैं।

mukesh ambani with family

तीन बच्चों और पति के साथ नीता अम्बानी

आजकल नीता जी अपने घर में शादी की तैयारियों में जुटी हैं। एक तरफ उनके बड़े बेटे आकाश की शादी होने वाली है तो वहीँ बेटी ईशा की शादी भी तय की जा चुकी है। बहू, पत्नी और माँ के रूप में अपनी जिम्मेदारियों का ख़ूबसूरती से निर्वाह करने के बाद अब रिश्तों की नयी पारी खेलने जा रही हैं। अब वे सास बनने जा रही हैं।

Mr and Mrs. Anant Ambani

अनंत अम्बानी साथ श्लोका मेहता

अपनी होने वाली बहु श्लोका मेहता को वह बचपन से जानती हैं। श्लोका भी नीता जी के स्कूल धीरूभाई अम्बानी इंटरनेशनल स्कूल से पढ़ी हैं।  दूसरी तरफ बेटी ईशा अम्बानी के लिए उन्होंने आनंद पीरामल को वर चुना है। पीरामल परिवार के साथ अम्बानी परिवार का काफी पुराना और गहरा रिश्ता है।

Daughter and would be son in law of Mukesh Ambani

ईशा अम्बानी के साथ आनंद पीरामल

नीता जी ने अपने बेटे-बहू के engagement पार्टी में डांस एक हुनर दिखा कर सबको हैरान कर दिया।

Neeta Ambani Dance

बेटे की engagement party में dance करती नीता अम्बानी

 

बच्चों की शिक्षा-दीक्षा पर दिया विशेष ध्यान 

शिक्षा को अत्यधिक महत्व देने वाली नीता जी ने अपने बच्चों के लिए बेहतरीन शिक्षा व्यवस्था की है। उनके बड़े बेटे आकाश अम्बानी Brown University से Economics graduate हैं।  वर्तमान में वह Reliance Jio के Strategy Head के तौर पर काम कर रहे हैं। 

बेटी ईशा ने Yale University से Psychology से Graduation किया है। फिलहाल वह Reliance Jio और Reliance Retail की Director पद पर हैं।  

छोटा बेटे अनंत अभी  Brown University, USA में पढाई कर रहे हैं। 

Reliance Jio directors Isha Ambani and Ananat Ambani

रिलायंस जिओ मीट का सम्बोधन करते ईशा और अनंत अम्बानी

नीता जी ने बच्चों को अच्छे संस्कार देने के लिए कोई कसार नहीं छोड़ी है। इस बारे उनका कहना है कि वे मध्यवर्गीय परिवार से ताल्लुक रखती हैं इसलिए बच्चों को भी उसी के करीब रखना चाहती हैं। उनके बच्चे अक्सर public transport में सफर करते हुए देखे जाते रहे हैं।  

वे बेटी ईशा को भी अपनी तरह Dance सीखना चाहती थीं लेकिन ईशा को इसमें कोई रूचि नहीं है। दूसरी तरफ नीता जी के लिए डांस meditation की तरह है।  वो इसी के साथ अपने दिन की शुरुआत करती हैं।  इसके अलावा swimming उनका पसंदीदा workout है।  

पढाई पूरी होने से पहले उन्होंने अपने बच्चों को कभी भी media limelight में नहीं आने दिया। उनका मानना है कि बच्चे अपनी वजह से जाने जाये न कि माता पिता की सफलता से।

अनंत के weight loss के लिए बनी प्रेरणा

नीता अम्बानी के छोटे बेटे अनंत अम्बानी को बचपन से obesity की problem थी। उन्हें chronic asthma था जिसकी hard medication की वजह से उनका वजन काफी बढ़ गया था।

Fat to Fit - Anant Ambani and Neeta Ambani

वजन कम करने से पहले अनंत और नीता अम्बानी

अपनी माँ की प्रेरणा से उन्होंने natural और safest तरीके से वजन कम करने की ठानी। 18 महीनों के अथक प्रयास के बाद वे अपना वजन 108 किलो कम कर पाने में पूरी तरह से कामयाब हो पाए।  उनके इस मिशन में नीता जी भी सहभागी रहीं।

Anant Ambani after weight loss

वजन कम करने के बाद अनंत अम्बानी

इस दौरान उन सारी चीज़ों का परहेज़ किया जो अनंत को खाना मना था। जब अनत workout करते थे तब वे भी उनका साथ दे रही होती थीं। वे भी अनंत का diet food ही खाती रही।

Neeta Ambani post her makeover

Makeover से पहले और बाद की नीता अम्बानी

इसका नतीजा ये हुआ कि नीता जी भी फिट हो गयीं। उनका weight 90 kg से घट कर 57 kg हो गया। वो पहले से काफी आकर्षक दिखने लगी हैं। 

Makeover के पीछे रही एक ख़ास वजह

ख़ास बात यह है कि शादी के 20 सालों तक नीता जी Education sector  और charity के कामों में सक्रिय रहने के बावजूद मीडिया की नज़रों से दूर ही रहीं।

लेकिन 2005 के बाद से वे मीडिया friendly होती गयीं।  उन्होंने अपने looks पर ध्यान दिया।  वजन घटाया, dressing style बदला और लोगों की नज़रों में आने लगीं। इसके पीछे भी ख़ास वजह रही है।

धीरूभाई अम्बानी की मौत के बाद Reliance Company उनके दोनों बेटे मुकेश और अनिल अम्बानी चला रहे थे। Business part मुकेश की जिम्मेदारी थी वहीँ Finance, Media management, Public Relations etc अनिल सँभालते थे। वर्ष 2005 में जब दोनों भाइयों के बीच Reliance का बंटवारा हो गया।

Mukesh and Anil Ambani

मुकेश अम्बानी और छोटे भाई अनिल अम्बानी

बंटवारे के बाद मुकेश अम्बानी के हिस्से में रिलायंस पेट्रोकेमिकल्स आया। मुकेश हमेशा से बिज़नेस में माहिर थे, लेकिन अनिल अम्बानी के अलग होने से Public Relations का part कमज़ोर हो गया था।  इस कमी को पूरा करने की जिम्मेदारी नीता जी ने उठा ली।

images (75)

फिर धीरे धीरे वो लोगो की नज़रों में आने लगीं। और अनिल अम्बानी के जाने से मुकेश अम्बानी के बिज़नेस में जो कमी आयी थी वो धीरे धीरे पूरी होती गयी। वहीँ मुकेश अम्बानी हमेशा की तरह आज भी मीडिया shy हैं। 

Middle Class Values को देती हैं अहमियत  

नीता अम्बानी ने शादी के बाद से सिर्फ सफलता और शोहरत ही देखा है लेकिन उसका लेश मात्र भी गुमान उनके व्यक्तित्व को छू नहीं पाया है।  इसका credit वो अपने middle class values को देती हैं।

बड़े बिज़नेस परिवार में शादी के बाद उन्हें किसी भी चीज़ की कमी नहीं थी फिर भी उन्होंने अपना शिक्षण कार्य जारी रखा।उन्होंने शादी से पहले ही ये शर्त रख दी थी कि वो शादी के बाद अपना काम नहीं छोड़ेंगी।

शादी के बाद भी वे स्कूल में पढ़ाती रहीं। उनके बात व्यवहार से ज्यादातर लोगो को ये अंदाजा भी नहीं था कि वे मशहूर businessman धीरूभाई अम्बानी की बहू हैं। 

old photograph of Mukesh and Neeta Ambani

पुरानी तस्वीर में नीता और मुकेश अम्बानी

वर्ष 1987 में क्रिकेट वर्ल्ड कप भारत में आयोजित हो रहा था जिसका sponsorship Reliance कर रही थी। नीता जी तब स्कूल में ही पढ़ाती थी। किसी बच्चे के रसूखदार parents ने उन्हें oblige करने के लिए स्टेडियम में वर्ल्ड कप देखने के लिए पास देना चाहा जिसे उन्होंने बड़ी ही विनम्रता से मना कर दिया था। 

जब वही पेरेंट्स खुद मैच देखने स्टेडियम में पहुंचे तो उन्होंने नीता जी को VVIP Box में बैठ कर मैच देखते हुए देखा और हैरत में पड़ गए। बाद में उन्हें नीता जी के reliance connection का पता चला। तो ऐसा है देश की सबसे धनाढ्य महिला का आचरण।  

Education sector से रहा गहरा लगाव 

Teaching उनका passion है। इसी passion का नतीजा है कि आज Reliance Industries शिक्षण के क्षेत्र में भी आ चुका है।  

वे rural education के लिए कुछ करना चाहती थीं।  इसकी शुरुआत उन्होंने पातालगंगा से की। यहाँ पर उनकी कंपनी का एक प्रोजेक्ट चल रहा था। उन्होंने गाँव के बच्चों को पढ़ाने के लिए एक छोटे से स्कूल की स्थापना की।

पातालगंगा के बाद उन्होंने 1997 में जामनगर में ग्रामीण बच्चों को पढ़ाने के लिए दूसरा स्कूल खोला। जामनगर का प्रोजेक्ट उनके जीवन की पहली बड़ी सफलता के रूप में देखा जा सकता है।   

जामनगर Township  से मिला खुद को prove करने का मौका  

स्कूल खोलने के अलावा नीता जी ने Jam Nagar Township Project के head का कार्यभार भी संभाला। इससे पहले उन्होंने कभी भी इतना बड़ा प्रोजेक्ट पर काम नहीं किया था। उन्होंने टीचिंग के अलावा कोई दूसरा काम ही नहीं किया था।

इस प्रोजेक्ट  के तहत Mega Refinery के 17000 employees के रहने के लिए township बनाया जाना था। यह इतना बेहतरीन टाउनशिप है कि आज भी इसे देश के बेहतरीन टाउनशिप में से एक माना जाता है। 415 acre में फैले इस township में हॉस्पिटल,एजुकेशन, बैंक, recreational  सभी activities मिलती हैं। यहाँ employees को रहने के लिए fully furnished घर दिया जाता है।

इस विषय में खुद नीता अम्बानी का कहना है कि उनको इस बारे में zero experience था। इस जिम्मेदारी को लेकर उनके मन में कई शंकाएं थीं।  लेकिन पति और ससुर के सहयोग से उन्होंने इस challenge को accept कर लिया था। 

Jam Nagar Township

जाम नगर टाउनशिप

Construction site पर वो अकेली महिला हुआ करती थीं। Workers के बीच रहकर उन्होंने तीन सालों तक कड़ी मेहनत की और एक शानदार टाउनशिप तैयार कराया।

इस प्रोजेक्ट की सफलता से नीता जी ने अपने आपको साबित कर दिया था। इसके बाद उन्हें और भी कई बड़े कामों की जिम्मेदारी दी जानी थी।    

अम्बानी परिवार की तरफ से मिली स्कूल की सौगात 

जाम नगर प्रोजेक्ट्स के सफल हो जाने के बाद अम्बानी परिवार को उनकी काबिलियत पर पूरा भरोसा हो चुका था। चूंकि नीता जी का education सेक्टर से गहरा लगाव था। 

इसलिए परिवार ने नीता जी के नेतृत्व में धीरूभाई अम्बानी इंटरनेशनल स्कूल खोलने का निर्णय लिया, जो आज देश के मशहूर स्कूलों में से एक है। 2003 में इस स्कूल की स्थापना की गयी थी। इनके तीनों बच्चों ने इसी स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी की है।

स्कूल को सफल मुकाम तक पहुंचाने के बाद उन्होंने underprivileged लोगों की ज़िंदगियाँ संवारने का बीड़ा उठाया।  वर्ष 2010 में charitable trust के तौर पर Reliance Foundation की स्थापना की। इसके तहत rural areas में Education, Health, Arts and Culture, Disaster Management, sports के क्षेत्र में काम किया जाता है।

Reliance Foundation

Reliance Foundation के जरिये करती हैं Social Work

इस संस्था के तहत कई स्कूल और हॉस्पिटल चलाये जाते हैं।  इसके अलावा natural calamities से निपटने के लिए इसने चेन्नई, गुजरात, जम्मू कश्मीर में सराहनीय काम किया है।   आज की तारीख में यह संस्था देश की सबसे बड़ी private charitable foundation बन चुकी है। 

Reliance Foundation के अलावा नीता जी ने Education For All (EFA) initiative की शुरुआत की है।  इसके तहत गरीब बच्चों की शिक्षा-दीक्षा के लिए काम किया जाता है।  अभी तक करीब 70000 ग़रीब बच्चे इसका लाभ उठा चुके हैं।  

IPL क्रिकेट टीम मुंबई इंडियंस की सफल leader

वर्ष 2008 में Reliance Industries की तरफ से IPL क्रिकेट टीम मुंबई इंडियंस खरीदी गयी थी। दो सालों तक इस टीम का performance अच्छा नहीं रहा था। 

तब तक नीता जी को Cricket की कोई जानकारी नहीं थी और न ही इसमें कोई रूचि ही थी। लेकिन अपनी team को नुकसान से बचाने उन्होंने टीम के management की जिम्मेदारी खुद उठाने का फैसला किया। 

खुद नीता जी का कहना है कि उन्होंने एक साल तक सिर्फ Cricket की बारीकियों को सीखा और अपनी टीम के उसके management पर focus किया।  शुरूआती परेशानियों के बाद उन्हें कामयाबी मिलने लगी। 

Mumbai Indians and owner Neeta Ambani

IPL जीतने के बाद जश्न मनाती मुंबई इंडियंस

उनकी अगुवाई में मुंबई इंडियंस वर्ष 2013, 2015  और 2017 में IPL Match winner बनी। 

Modesty है इनकी ताकत 

मुकेश अम्बानी को माहिर business man के रूप में देखा जाता है तो नीता अम्बानी उस व्यावसायिकता के बीच मानवीयता की कड़ी हैं, जो लोगों को रिलायंस से जोड़ने का काम करता हैं।

इनको प्यार से सभी नीता भाभी बुलाते हैं। शादी से पहले ये नीता दलाल थीं। इनका जन्म 1 नवंबर 1963 में मुंबई में एक गुजरती परिवार में हुआ। मुंबई के Narsee Monjee College of  Commerce and Economics से इन्होने Graduation की डिग्री हासिल की।  

Dance ने बना दी जोड़ी

कम ही लोगों को पता है कि नीता जी भरतनाट्यम की Trained Dancer हैं। उनकी डांस performance को देख कर ही धीरूभाई अम्बानी और उनकी पत्नी कोकिलाबेन ने उन्हें अपनी बड़ी बहू बनाने का फैसला कर लिया था।

images (90)

नीता जी खुद इस घटना के बारे में बताती हैं की उनका डांस देखने के बाद धीरूभाई इतने प्रभावित हुए की एक दिन उन्होंने इनके घर पर फ़ोन किया, जिसे नीता जी receive किया। जैसे ही उन्होंने अपना परिचय दिया तो नीता जी को लगा कि कोई उनके साथ मज़ाक कर रहा है।

 फिर उन्होंने भी कह डाला कि आप अगर धीरूभाई अम्बानी बोल रहे हैं तो मैं भी एलिज़ाबेथ टेलर हूँ। इतना कह कर उन्होंने फोन काट दिया। 

images (78)

उनके पिता रवीन्द्रभाई दलाल ये सब सुन रहे थे। दुबारा कॉल आने पर उन्होंने फोन उठाया और पूरी बात समझी। धीरूभाई ने नीता को अपने ऑफिस में बुलाया था। वहां जाने पर उन्होंने नीता जी से अपने बड़े बेटे मुकेश अम्बानी से शादी करने का प्रस्ताव दे डाला। 

फिर नीता जी और मुकेश की मुलाकात हुई और 8 मार्च 1985 में इनकी शादी हो गयी। शादी से पहले जब कभी भी उन्हें मुकेश से मिलना होता था तो वे उनकी महँगी गाड़ियों में सफर नहीं करती थी बल्कि अपने साथ उन्हें भी बस से सफर करने को कहती थीं।

उपलब्धियां/ Achievements

#1 . नीता अम्बानी International Olympic Committee की member बनने वाली पहली भारतीय महिला हैं। 

#2 . शिक्षा-संस्कृति और जान कल्याण के कामों को बढ़ावा देने के लिए New York के Metropolitan Museum की तरफ से इनको सम्मानित किया गया है।  

#3 . वर्ष 2014 में Reliance Group की पहली महिला director बनने का गौरव प्राप्त हुआ। 

नीता अम्बानी और ईशा अम्बानी

नीता अम्बानी बेटी ईशा के साथ

#4 . 2016 में Forbes Magazine ने इनको एशिया की सबसे प्रभावशाली महिला business Leaders की list में शामिल किया था।  

#5 . India Today Magazine ने भी इन्हे देश के 50 सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में शामिल किया था।

तो ये था देश की सबसे धनाढ्य महिला का जीवन परिचय। देश के सबसे महंगे घर में रहने वाली Mrs Ambani  अपना अधिकांश समय Underprivileged लोगो के कल्याण में बिताती हैं। 

शिक्षा से बेहद लगाव रखने वाली नीता जी ने साबित कर दिया कि अच्छे education की बदौलत इंसान किसी भी चुनैती को पार कर सकता है और सफलता की बुलंदी हासिल कर सकता है।

समाज कल्याण के कार्यों के लिए मम्मी की दुनिया की तरफ से  नीता अम्बानी को ढेरों शुभकामनायें।

Photo  Source – Google Images

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s